Home मंडी डबवाली डबवाली विकास मंच की अहम बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण फैसले, रणनीति तैयार

डबवाली विकास मंच की अहम बैठक में लिए गए महत्वपूर्ण फैसले, रणनीति तैयार

11 second read
0
0
266

डबवाली
डबवाली विकास मंच की अहम बैठक प्रधान राजेश जैन काला की अध्यक्षता मे विश्वकर्मा गुरुद्वारा साहिब के नजदीक उनके प्रतिष्ठान पर हुई। इस बैठक में शहर की विभिन्न समस्याओं पर विचार विमर्श करने के उपरांत उनके समाधान के लिए आवाज बुलंद करने की रणनीति तैयार की गई।
सफाई व्यवस्था को लेकर हुई चर्चा में यह बात सामने आई कि शहर में अभी भी अनेक ऐसे कूड़ा डंपिंग प्वाइंट हैं जो कि डबवाली की सुंदरता पर ग्रहण एवं लोगों की परेशानी का कारण बने हुए  हैं। इनमें बठिंडा चौक के नजदीक, रेलवे पुल के नीचे, सिविल अस्पताल के पीछे, रामलीला पार्क के नजदीक एवं पुराने नगरपरिषद भवन के नजदीक रोजाना लगने वाले कूड़े के ढेर हटाए जाने की जरुरत है। निर्णय लिया गया कि इसे लेकर पहले नगरपरिषद एवं फिर प्रशासन के अधिकारियों को ज्ञापन दिए जाएंगे। वहीं, लोगों को जागरुक करने के लिए फलेक्स भी उन स्थानों पर लगाए जाएंगे ताकि वहां कोई भी कूड़ा न फैंके।
इसके अलावा सभी सदस्यों ने यह भी माना कि शहर में लाखों रुपए के मासिक किराए पर लगाई गई डस्ट स्वीपिंग मशीन का भी शहरवासियों को खास फायदा नहीं मिला है। यह मशीन केवल बाहरी सड़कों पर किनारों से मिट्टी आदि हटाने के अलावा अन्य सफाई कार्य में कुछ भी योगदान नहीं दे रही है। शहर के बाजारों आदि में भी मशीन को नहीं लाया जाता जबकि वहां पर भी सफाई व्यवस्था को सुदृढ़ करने की अधिक आवश्यकता है। बैठक में निर्णय लिया गया कि विकास मंच सदस्य इस मशीन के कार्य के बारे में भी विस्तृत जानकारी लेकर नगरपरिषद अधिकारियों से बात करेंगे और इस मशीन को पूरे शहर की सड़कों पर सफाई कार्य में इस्तेमाल करने की मांग जोर-शोर से उठाई जाएगी। सफाई कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने के लिए भी नगरपरिषद, प्रशासन के उच्चाधिकारियों व सरकार के नुमाइंदों को पत्र लिखे जाएंगे। विकास मंच द्वारा कूड़ा उठाने वाले थ्री-व्हीलर चालकों के मोबाइल नंबर लेकर भी अलग-अलग वार्ड मुताबिक सार्वजनिक किए जाएंगे ताकि लोगों को उनका लाभ मिले व कोई भी कूड़ा इधर-उधर फैंकने को मजबूर न हो।
बैठक में सभी सदस्यों की सहमति से भारत भूषण वधवा को संस्था के सलाहकार मंडल में शामिल किया गया। वहीं, मनीष शर्मा को उपप्रधान व एडवोकेट जगदीप सिंह को लीगल एडवाइजर बनाया गया। अंत में संस्था सदस्य निश्चिंत झांब की दादी राजरानी के देहांत पर भी शोक प्रकट करते हुए परिवार के प्रति संवेदनाएं जताई गईं। इस अवसर पर संयोजक नरेश सेठी, सरप्रस्त विपिन मोंगा, सचिव अजय छाबड़ा, कोषाध्यक्ष हरदेव गोरखी, पीआरओ जगमोहन सिंगला, महिदं्र बांसल, अविनाश छाबड़ा, ललित बांसल, तालिब पुहाल, नोना मिढ़ा, विक्की वर्मा के साथ-साथ सलाहकार मंडल के सदस्य संजीव शाद व रवि मोंगा भी मौजूद थे।

Load More Related Articles

Leave a Reply

Check Also

डबवाली के विधायक अमित सिहाग ने बढ़ रहे करोना संक्रमण पर व्यक्त की गहरी चिंता

सरकार की गलत स्…