Home मंडी डबवाली डबवाली सिटी में करवा चौथ पर बाजार में रही रौनक

डबवाली सिटी में करवा चौथ पर बाजार में रही रौनक

12 second read
0
0
551

करवा चौथ आज, बाजार में रही रौनक
डबवाली। कोरोना काल में प्यार व भरोसे के प्रतीक करवा चौथ के व्रत का महत्व अधिक बढ़ गया है। कई महिलाएं पति की दीर्घायु के लिए यह व्रत रखेगी। इसे लेकर बाजारों में श्रृंगार सामग्री की मंगलवार को अच्छी बिक्री दर्ज की गई। अधिकांश महिलाएं रंग-बिरंगे करवे खरीदी कर रही हैं। सुहागनों का पर्व करवा चौथ बुधवार को मनाया जाएगा। इसे लेकर बाजारों में रौनक बढ़ गई है, क्योंकि इस व्रत का अधिक महत्व होता है। शास्त्रों के अनुसार यह व्रत कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चंद्रोदय व्यापिनी चतुर्थी के दिन होता है। पति की दीर्घायु एवं अखंड सौभाग्य की प्राप्ति के लिए महिलाएं पूजा-अर्चना करती हैं। मिट्टी या किसी अन्य धातु के करवे में जल भरकर महिलाओं के आपस में कहानी सुनने की प्रथा है। पूरे दिन उपवास रखकर रात्रि में चंद्रमा को अर्घ्य देने के उपरांत पत्नी अपने पति के हाथों से जल ग्रहण करती हैं। अलग-अलग परिवार में अलग-अलग ढंग से इस व्रत को पूरे विधिविधान से मनाया जाता है। अधिकतर महिलाएं निराहार रहकर चंद्रोदय की प्रतीक्षा करती हैं। इसके बाद चंद्रोदय की पूजा-अर्चना कर व्रत खोला जाता है। करवा चौथ पर्व को लेकर बाजार में मिट्टी के सजे हुए रंगबिरंगे करवों की अच्छी बिक्री हो रही है। अधिकांश महिलाएं रंगबिरंगी करवे खरीद रही हैं।
उधर लॉकडाउन में तो दुल्हन तक बिना मेकअप के ही विदा हो गईं थीं लेकिन अब ब्यूटी पार्लर फिर से गुलजार होने लगे हैं। मेहंदी लगाने के लिए जगह-जगह मीना बाजार में स्टाल लगे हुए हैं।  रंग बिरंगी चूड़ी और मेकअप के सामान के बिना भी करवा चौथ का बाजार अधूरा सा लगता है। बाजार में मेकअप की दुकानों पर करवा चौथ और तीज और रक्षा बंधन के समय सबसे अधिक भीड़ रहती है। तीज और रक्षाबंधन तो कोरोना की भेंट चढ़ गए। करवा चौथ पर चूड़ी और मेकअप का सामान बेचने वालों की दुकान पर फिर से रौनक लौटी है।

Leave a Reply

Check Also

डबवाली के विधायक अमित सिहाग ने बढ़ रहे करोना संक्रमण पर व्यक्त की गहरी चिंता

सरकार की गलत स्…