Home मंडी डबवाली पन्नीवाला रुलदू में पुलिस की गाड़ी की टक्कर से एक बच्ची की मौत

पन्नीवाला रुलदू में पुलिस की गाड़ी की टक्कर से एक बच्ची की मौत

9 second read
0
1
829

डबवाली।शनिवार को कालांवाली रोड मार्ग पर स्थित गांव पन्नीवाला रुल्दू के मेन बस स्टैंड पर हुए सडक़ हादसे में एक 14 वर्षीय बच्ची की मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक 55 वर्षीय वृद्ध गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसे सिरसा के सामान्य अस्पताल में उपचाराधीन करवाया गया है। प्रत्यक्षदर्शी ग्रामीणों ने बताया कि शहर थाना कालांवाली पुलिस की एक सरकारी गाड़ी (बोलैरो नंबर एचआर-24वाई-0900) पर सवार होकर एक महिला सहित तीन आरोपियों को डबवाली कोर्ट में पेश करने के लिए लाया जा रहा था।

घटना का वीडियो भी देखें

तेज रफ्तार पुलिस की गाड़ी ने गांव पन्नीवाला रुल्दू के मेन बस स्टैंड पर मंदिर के बाहर खड़ी एक कार व रेहड़ी को टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि सडक़ किनारे खड़ी कार गांव के प्रवेश द्वार पर चढ़ गई और इस दौरान वहां खड़ी एक बच्ची दोनों वाहनों की चपेट में आ गई। जिसकी मौके पर ही मौत हो गई। मृतका की पहचान गांव पन्नीवाला रुल्दू निवासी 14 वर्षीय राजवीर कौर पुत्री अजैब सिंह के तौर पर हुई है जबकि वहां पर रेहड़ी लगाकर खड़े 55 वर्षीय साधू सिंह पुत्र कर्मदीन खान गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसे पहले कालांवाली और फिर बाद में सिरसा स्थित सामान्य अस्पताल में उपचाराधीन करवाया गया, जहां पर जख्मों का ताप न सहते हुए उसने भी दम तोड़ दिया। हादसे के बाद गाड़ी चालक पुलिस कर्मी एएसआई राज कुमार मौका से फरार हो गया। शहर थाना कालांवाली के प्रभारी राजेंद्र सिंह मोर ने बताया कि पुलिस कर्मी एनडीपीएस एक्ट के तहत एक आरोपी महिला फूलो, विक्की व रोहताश को डबवाली की अदालत में पेश करने के लिए लेकर आ रहा था।
हादसे के बाद एकत्रित हुए ग्रामीणों व किसान यूनियन एकता के सदस्यों में रोष पनप गया और उन्होंने इस घटना के विरोध स्वरूप सडक़ पर जाम लगा दिया। किसान नेता गुरप्रेम सिंह व अन्य ग्रामीणों का कहना है कि हादसे के बाद पुलिस कर्मी घायलों को संभालने व उन्हें अस्पताल में उपचाराधीन करवाने की बजाए घटना स्थल से फरार हो गया। सूचना मिलने पर पुलिस की दूसरी गाड़ी आई और मृतका राजवीर कौर के शव तथा घायल साधू सिंह को कालांवाली के सामान्य अस्पताल पहुंचाया। गुरप्रेम सिंह के अनुसार गांव का प्रवेश द्वार, एक गाड़ी क्षतिग्रस्त हुई है। इसके बाद आरोपियों को पुलिस डबवाली कोर्ट में पेश करने के लिए दूसरी गाड़ी में ले गई। उन्होंने बताया कि धरनारत ग्रामीणों की मांग है कि उक्त गाड़ी चालक का मेडिकल करवाया जा और उसके खिलाफ पर्चा दर्ज करते हुए पीडि़त परिवारों को मुआवजा दिलवाया जाए। समाचार लिखे जाने तक ग्रामीण व किसान यूनियन के सदस्य सडक़ जाम करके बैठे थे और अभी तक कोई भी प्रशासनिक अधिकारी मौका पर नहीं पहुंचा

Leave a Reply

Check Also

महाराजा अग्रसेन जी की जयंती के दूसरे चरण में नंदीशाला में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित

डबवालीअखिल भाë…