Home मंडी डबवाली किसान आंदोलन दिल्ली में टिकरी बॉर्डर पर रणदीप सिंह मट्टदादू ने निजी कोष से वाशिंग मशीन उपलब्ध करवाई

किसान आंदोलन दिल्ली में टिकरी बॉर्डर पर रणदीप सिंह मट्टदादू ने निजी कोष से वाशिंग मशीन उपलब्ध करवाई

8 second read
0
0
275
किसान आंदोलन दिल्ली में टिकरी बॉर्डर पर रणदीप सिंह मट्टदादू ने निजी कोष से वाशिंग मशीन उपलब्ध करवाई
पहला धर्म किसानी को माना है -रणदीप मटदादु
टिकरी बॉर्डर पर अपने इलाकानिवासियों के बीच ट्रॉली में बिताई रात।
डबवाली।
दुनिया मे ऐसे बहुत कम इंसान मिलते है जो समाज सेवा के लिए हमेशा तैयार रहते है और जिनमे समाज सेवा व लोक भलाई का जज्बा कूट कूट कर भरा रहता है , हम बात कर रहे हैं ऐसे ही एक युवा की जो लोक सेवा के लिए हर वक्त तैयार रहता है। चाहे लॉकडाउन के वक्त राशन बाटने की या किसान भाइयों की सहायता की बात हो वो हर कदम उनके साथ खड़ा है , उस शख्स का नाम है ब्लॉक समिति सदस्य रणदीप सिंह मटदादू। उनका कहना है कि जो बुरे वक्त के समय किसी के काम ना आया तो ये जीवन किस काम का। किसान आंदोलन शुरू होते ही उन्होंने गांव की और से किसानों को भेजे जा रहे खाद्य सामग्री व अन्य सामान में नगद राशि व अन्य जरूरत का सामान देकर भरपूर सहयोग किया था। उनका कहना था कि किसी राजनीतिक पार्टी का सदस्य या नेता होने से पहले वह एक किसान के बेटे है , और एक किसान का बेटा होने के नाते वह अपना फर्ज निभा रहे है।
इसी कड़ी में उन्होंने अपना पहला धर्म किसानी को मानते हुए दिल्ली में जारी किसान आंदोलन में टिकरी बॉर्डर पर अपने इलाका निवासियों के बीच पहुंचकर रणदीप सिंह मट्टदादू ने हल्का डबवाली के पड़ाव बहादुरगढ़ बाईपास खम्भा नंबर 254 पर कपड़े धोने के लिए अपने निजी कोष से वाशिंग मशीन उपलब्ध करवाई है। इसके अलावा उनके साथी समराज सिंह ढिल्लों ने कपड़े इस्तरी करने के लिए प्रेस दी है। इस बात की जानकारी देते हुए किसान नेता गुरमेल सिंह ढिल्लों ने बताया कि किसानों का टिकरी बॉर्डर से लेकर बहादुरगढ़ बाईपास तक भारी जमावड़ा है। किसान पिछले एक महीने से यहां एकत्रित है इसलिए किसानों को कपड़े धोने, सुखाने और साफ करने में काफी परेशानी झेलनी पड़ रही थी। इस समस्या का हल करते हुए ब्लॉक समिति सदस्य रणदीप सिंह मट्टदादु ने एक बड़ी सेमी आटोमेटिक वाशिंग मशीन अपने निजी कोष से किसानों के लिए भेंट की है।
उन्होंने सभी किसान भाइयों से अपील की है कि सभी अपने कपड़े धुलवाने के लिए  खम्बा न 254 पर जा सकते है। इस मौके पर शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सदस्य जत्थेदार जगसीर सिंह मांगेआना, गुरमेल सिंह ढिल्लों, राज सिंह प्रेमी, आत्मा सिंह पन्नीवाला, गुरदीप सिंह ढिल्लों, जसविंदर धालीवाल, भालाराम झूठीखेड़ा, टीटू खालसा, हैप्पी कड़वासरा, अमन संधु काला पन्नीवाला, सतपाल औलख आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Check Also

ऐलनाबाद से पवन बेनीवाल ने बीजेपी को बोला अलविदा

ऐलनाबाद विधानì…