Home मंडी डबवाली मॉडर्न मोंटेसरी कान्वेंट स्कूल में बसंत पंचमी पर बच्चों ने बांधा समा

मॉडर्न मोंटेसरी कान्वेंट स्कूल में बसंत पंचमी पर बच्चों ने बांधा समा

10 second read
0
0
852
मंडी डबवाली- पन्नू
मॉडर्न मोंटेसरी कान्वेंट स्कूल में बसंत पंचमी का त्यौहार बुधवार को बहुत ही धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर सर्वप्रथम सरस्वती मां के चित्र के समक्ष ज्योति प्रज्वलित की गई। इसके पश्चात प्री नर्सरी से आठवीं कक्षा तक के बच्चों के बीच विभिन्न प्रतियोगिताएं हुई। 
प्री नर्सरी से यूकेजी के बच्चों में येलो ड्रेस व येलो लंच की प्रतियोगिता करवाई गई। इसमें छोटे-छोटे बच्चे पीले रंग के कपड़ों में बसंत की छटा बिखेर रहे थे। इसके साथ ही लंच बॉक्स में बच्चे येलो टोस्ट, मकरोनी, सैंडविच, गुजराती डिश खांडवी व अन्य यम्मी डिश लेकर आए। प्री नर्सरी में हितांशी, पीहू, गुणरोज, नवशीन व गुुणित को टॉप फाइव में चुना गया। नर्सरी में धैर्या, भाविका, नव्या, प्रभनूर व भाविका ने टॉप फाइव में जगह बनाई। एलकेजी में प्रीति, यशिका व प्रयाग ने टॉप थ्री पर कब्जा जमाया। यूकेजी में ऐंजल,जगबीर, कृष्टि, हर्षिका व नूरप्रीत ने टॉप फाइव में स्थान बनाया। पहली व दूसरी कक्षा के बच्चों के बीच करवाई गई ड्राइंग व कलरिंग प्रतियोगिता में रोहित ने प्रथम, भूमिका ने द्वितीय तथा रोमदीप ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। तीसरी से पांचवी कक्षा तक के बच्चों के बीच हुई काईट मेकिंग में खनक ने पहला, रितु ने दूसरा तथा आरुषि ने  तीसरा स्थान प्राप्त किया। पांचवी से आठवीं कक्षा की सलाद सज्जा प्रतियोगिता में  बच्चों ने सलाद को विभिन्न कलाकृतियों के रुप में प्रस्तुत किया। इसमें रिद्धिमा, छवि, मुस्कान व हर्ष ने प्रथम, गरिमा, मनीषा , मुस्कान व रोहित ने द्वितीय तथा जसिका, सिमरन, कंचन, निहारिका व सिमरन ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। एक अन्य छात्रा कंचन को सांत्वना पुरस्कार मिला।
 कार्यक्रम के अंत में प्रिंसिपल डिंपल मिढ़ा ने सभी प्रतिभागी व विजेता बच्चों को बधाई देते हुए कहा कि बसंत पंचमी त्योहार का अत्याधिक महत्व है क्योंकि इस दिन को ज्ञान व बुद्धि की देवी मां सरस्वती की उत्पत्ति का दिन माना जाता है। बसंत को सभी ऋतुओं का राजा भी कहा जाता है जिससे इस त्यौहार का महत्व और भी बढ़ जाती है। बसंत पंचमी के दिन हर तरफ पीले रंग की ही बहार होती है। अंत में प्रिंसिपल डिंपल मिढ़ा ने उन अभिभावकों का भी धन्यवाद किया जिन्होंने अपने बच्चों को बढ़-चढ़कर इस कार्यक्रम में  भाग लेने के लिए प्रेरित किया व अपना अमूल्य सहयोग दिया। उन्होंने  सभी बच्चों को वाइस प्रिंसिपल राजीव अनेजा तथा अंकुर मिढ़ा के सहयोग से पुरस्कार देकर सम्मानित किया। 

Leave a Reply

Check Also

दंपति ने शादी की 54वीं सालगिरह पर विद्यालय में लगाएं 54 पौधे

दंपति ने शादी क…