Home राज्य हरयाणा दिल-दहला देने वाली घटना: तांत्रिक के कहने पर पिता ने मार डाले अपने ही पांच बच्चे, आरोपी गिरफ्तार

दिल-दहला देने वाली घटना: तांत्रिक के कहने पर पिता ने मार डाले अपने ही पांच बच्चे, आरोपी गिरफ्तार

11 second read
0
0
984

हेमराज बिरट, तेज़ हरियाणा न्यूज़ नेटवर्क:
————————————-
हरियाणा के जींद जिले में एक दिल-दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक हैवान पिता की गंदी करतूत सामने आई है। तांत्रिक के कहने पर एक शख्स ने अपने ही पांच बच्चों को मार डाला। मामले का खुलासा होने पर आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामला हरियाणा के जींद जिले के गांव डिडवाड़ा का है।
जींद पुलिस ने 20 जुलाई को उन दो लड़कियों का शव हांसी-बुटाना लिंक नहर से 15 जुलाई को बरामद किया था, जो 15 जुलाई को दिदवाड़ा गांव से गायब हो गई थीं। बच्चियों के गायब होने के बाद उसके आरोपी पिता जुम्मा ने ही शिकायत दर्ज कराई थी। जुम्मा मजदूरी करता है और उसकी पत्नी छठे बच्चे के साथ गर्भवती है।
बच्चियों की हत्या तंत्रमंत्र के चक्कर में पड़कर आरोपी पिता ने ही की है। इससे भी बड़ा खुलासा यह हुआ है कि आरोपी पिता इससे पहले भी अपने तीन बच्चों की हत्या कर चुका है। फिलहाल पुलिस ने शक के आधार पर आरोपी पिता जुम्मा को हिरासत में ले लिया है और जांच की जा रही है।
गौरतलब है कि 16 जुलाई को डिडवाड़ा गांव निवासी जुम्मा ने पुलिस को शिकायत देकर अपनी सात साल की बेटी निशा व 11 वर्षीय बेटी मुस्कान के गायब होने की सूचना दी थी। इसके एक दिन बाद पुलिस ने निशा का शव गांव से सात किलोमीटर दूर नहर से बरामद कर लिया था।
इसके तीन दिन बाद दूसरी बेटी मुस्कान का शव भी नहर से बरामद हुआ था। इसके बाद से ही पुलिस का शक जुम्मा पर बना हुआ था। वीरवार रात को पुलिस ने जुम्मा को हिरासत में ले लिया। सफीदों के एएसपी अजीत सिंह शेखावत के अनुसार पुलिस जुम्मा से पूछताछ कर रही है।
-मूकबधिर व्यक्ति की शिनाख्त पर हुआ खुलासा:
मामले में बड़ा मोड़ उस समय आया, जब साहनपुर गांव निवासी एक मूक बधिर व्यक्ति ने इशारा कर ग्रामीणों को बताया कि नहर में कोई गठरी बहती हुई गई है। इसके बाद पुलिस ने अभियान चलाकर दोनों शवों को बरामद किया है।
-ग्रामीणों के सामने कबूला जुर्म:
वीरवार रात जुम्मा ने गांव के सरपंच व अन्य लोगों के पास जाकर अपना जुर्म कबूल लिया। हालांकि पुलिस अभी तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं कर रही है, लेकिन ग्रामीणों ने ही पुलिस को इसकी सूचना दी थी। जुम्मा ने माना कि इससे पहले भी वह अपने तीन बच्चों को मार चुका है।
जुम्मा ने बताया कि दोनों बेटियों को नशीला पदार्थ खिलाकर बेहोश किया। इसके बाद बेहोशी की हालत में नहर में फेंक दिया। पोस्टमार्टम में भी यही खुलासा हुआ है कि मौत डूबने से हुई है। इससे पहले भी जुम्मा डेढ़ वर्ष के बेटे को जहर देकर व दो बेटियों को गला दबाकर मार चुका है।

Leave a Reply

Check Also

डबवाली के विधायक अमित सिहाग ने बढ़ रहे करोना संक्रमण पर व्यक्त की गहरी चिंता

सरकार की गलत स्…