Home राज्य हरयाणा शादी के पवित्र बंधन में बंधे बजरंग पूनिया और संगीता फोगाट, आठवां फेरा लेकर दिया बेहद जरूरी संदेश

शादी के पवित्र बंधन में बंधे बजरंग पूनिया और संगीता फोगाट, आठवां फेरा लेकर दिया बेहद जरूरी संदेश

12 second read
0
0
707

हेमराज बिरट, ब्यूरो इंचार्ज, तेज़ हरियाणा नेटवर्क:

देश के दो जाने-माने पहलवान शादी के बंधन में बंध चुके हैं. जी हां, बजरंग पूनिया और संगीता फोगाट अब 7 जन्मों के लिए एक-दूसरे के हो गए हैं. कोरोना वायरस की वजह से इस शादी में दोनों परिवारों के केवल चुनिंदा रिश्तेदार ही शामिल हो पाए. बजरंग और संगीता की शादी की तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही हैं.

बजरंग और संगीता ने बुधवार को हिंदू रीति-रिवाज से हरियाणा के चरखी दादरी जिले के बलाली गांव में शादी की. कोरोना वायरस की वजह से सरकारी दिशा-निर्देशों को देखते हुए पहलवानों की शादी में कुल 50-60 लोग ही शामिल हुए. शादी में बजरंग पूनिया की ओर से कुल 31 मेहमान शामिल हुए जबकि बाकी मेहमान फोगाट परिवार के थे.

संगीता फोगाट अपनी बहनों में सबसे छोटी हैं. फोगाट बहनों में गीता सबसे बड़ी हैं, उनके बाद दूसरे नंबर पर बबीता हैं, तीसरे नंबर पर ऋतु हैं और फिर चौथे नंबर पर संगीता हैं.

आठ फेरे लेकर दिया यह बेहद जरूरी संदेश: बेटी बचाने के संदेश के साथ आठ फेरे..

शादी के दौरान बजरंग ने कोई दहेज नहीं लिया. साथ ही सात की जगह आठ फेरे लिए गए. आठवां फेरा बेटी बचाने के प्रति जागरुकता बढ़ाने के लिए लिया गया. 23 नवंबर को संगीता फोगाट की हल्दी की रस्म हुई. संगीता ने इसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की हैं. वहीं 24 तारीख को महिला संगीत और मेंहदी की रस्में हुईं.

 

संगीता भी है पहलवान:

संगीता भी पहलवान हैं. उन्होंने एशियाई चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल भी जीत रखा है. वहीं बजरंग भारत के बड़े पहलवानों में से एक हैं. वे ओलिंपिक खेलों में भारत के मेडल दावेदारों में से एक हैं. वे ओलिंपिक 2020 के बाद शादी करने वाले थे, लेकिन कोरोना महामारी के चलते ओलिंपिक खेल टल गए. ऐसे में उन्होंने नवंबर में शादी करने का फैसला किया.

भारत के मेडलवीर हैं बजरंग:

बजरंग 65 किलो भारवर्ग में कुश्ती करते हैं. वे भारत को वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में तीन पदक दिला चुके हैं. वे एशियन और कॉमनवेल्थ गेम्स में भी भारत के लिए गोल्ड मेडल जीत चुके हैं. साल 2015 में उन्हें अर्जुन और 2019 में राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड दिया गया था. 2019 में ही उन्हें पद्मश्री से भी सम्मानित किया गया.

Leave a Reply

Check Also

अबूबशहर में बने फुट ओवरब्रिज को शिफ्ट करने एवम् अबूबशहर लोहगढ़ सड़क पर बंद पड़े रेलवे फाटक को खुलवाने की रखी मांग

विधायक अमित सि…