Home राज्य हरयाणा हरियाणा: पीटीआइ के समर्थन में उमड़ा जन सैलाब देख प्रशासन के फूले हाथ-पांव

हरियाणा: पीटीआइ के समर्थन में उमड़ा जन सैलाब देख प्रशासन के फूले हाथ-पांव

12 second read
0
0
345

हेमराज बिरट, तेज़ हरियाणा नेटवर्क:
———————————-
सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद नौकरी से बर्खास्त किए गए 1983 पीटीआइ अध्यापकों के समर्थन में शनिवार को जींद की नई अनाज मंडी में हुई सर्वजातीय महापंचायत में उमड़ी भीड़ ने प्रशासन के हाथ-पांव फूला दिए। प्रशासन को अंदेशा ही नहीं था कि हजारों की संख्या में लोग महापंचायत में पहुंच जाएंगे।
शनिवार सुबह बर्खास्त पीटीआइ जींद की अनाज मंडी में टेंट लगाने लगे तो ड्यूटी मजिस्ट्रेट तहसीलदार मनोज अहलावत के साथ पुलिस मौके पर पहुंची और वहां पर बिछाई गई दरियों को हटाने लगे, लेकिन वहां पर मौजूद पीटीआइ उन दरियों के ऊपर लेट गए और हटाने नहीं दिया। पीटीआइ व पुलिस कर्मियों के बीच में हल्की झड़प भी हुई। वहां पर ज्यादा भीड़ देखकर प्रशासन पीछे हट गया। इसके बाद प्रशासनिक अमला मंडी में मूकदर्शक बनकर खड़ा रहा। इस दौरान प्रशासनिक अमला महापंचायत की अनुमति नहीं होने के चलते कानूनी कार्रवाई की धमकी देता रहा, लेकिन बर्खास्त पीटीआइ ने कहा कि उन्होंने अनुमति के लिए प्रार्थना पत्र दिया हुआ है। उनका रोजगार छीना हुआ है, इसलिए वह महापंचायत करने से पीछे नहीं हटेंगे। बाद में महम और चरखी दादरी के विधायक समेत 100 से ज्यादा खाप प्रतिनिधि महापंचायत में पहुंचे और सभी ने बर्खास्त पीटीआइ अध्यापकों के समर्थन में आवाज बुलंद की। महापंचायत के मंच से सभी ने सरकार को 25 जुलाई तक का अल्टीमेटम दिया है। उसके बाद आंदोलन की शुरुआत होगी। उसके बाद जन सैलाब बढ़ता गया, जिसके सामने प्रशासन लाचार नजर आया।
-नहीं दिखा कोरोना का खौफ:
यूं तो कोरोना के कारण हर कोई एक-दूसरे से शारीरिक दूरी बना कर रखना चाहता है लेकिन नौकरी खो चुके पीटीआइ अध्यापक और उनके समर्थन में उतरे लोगों में कोरोना का खौफ दूर-दूर तक भी नजर नहीं आया। हरियाणा शारीरिक शिक्षक संघर्ष समिति के राज्य प्रधान धर्मेंद्र सिंह की अध्यक्षता में हुई राज्य स्तरीय विस्तृत जनसभा में प्रदेश भर से हजारों लोग पहुंचे। समिति के राज्य उप-प्रधान वजीर गांगोली, शौर्यचक्र विजेता दिलबाग जाखड़, जिला प्रधान अनिल मलिक ने प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि जनसभा होकर रहेगी और वह धमकी तथा डंडों से नहीं दबेंगे। वजीर गांगोली ने कहा कि सरकार द्वारा एक सप्ताह में उनके पक्ष में कोई सकारात्मक फैसला नहीं लिया गया तो 25 जुलाई के बाद हरियाणा में बड़ा आंदोलन शुरू कर दिया जाएगा।

Leave a Reply

Check Also

आजाद हिंद फौज के संस्थापक नेताजी को पुष्पांंजलि भेंट कर किया नमन

आजाद हिंद फौज क…