Home राज्य पंजाब बाप रे ये कैसी अनहोनी बहुओं ने कर दी ससुर की पिटाई,जमकर वायरल हो रहा है विडियो

बाप रे ये कैसी अनहोनी बहुओं ने कर दी ससुर की पिटाई,जमकर वायरल हो रहा है विडियो

11 second read
0
0
867

बाप रे ये कैसी अनहोनी बहुओं ने कर दी ससुर की पिटाई
गोरीवाला 
 उप तहसील गोरीवाला के प्रांगण में सोमवार को जमीनी विवाद इतना गहरा गया कि ससुर को उनकी पुत्रवधू ने लात व घुसा से पिटाई कर डाली जिसकी एवज में बढ़ते विवाद को देखकर भारी सुरक्षा बल तैनात किया गया।  मनीराम पुत्र गंगाराम के 2 पुत्र महावीर कुमार व सूरजपाल का परिवार गोरीवाला मे रहते है।  मनीराम की गांव गोरीवाला मे लगभग 3 एकड़ जमीन है । इस जमीन को मनीराम ने अपने दोनों पुत्रों बेटी  के सहयोग से बेच दिया।  जिसकी एवज में खरीदार से उसने 500000रूपए प्राप्त किए। जिसकी आज सोमवार को रजिस्ट्री तहसील कार्यालय गोरीवाला में होनी थी । सुबह जैसे ही इस बात का पता पुत्रवध सुमन धर्मपत्नी महावीर, प्रियंका धर्मपत्नी सूरजपाल इसकी भनक लगी तो दोनो देवरानी-जेठानी अपने बच्चो  सहित तहसील कार्यालय के गेट पर आ पहुंचे।  उनके पक्ष में सैकड़ों ग्रामीण भी तहसील परिसर में इक_े हुए । जैसे ही मनी राम व उसके दोनो बेटे व बेटी अपने वकील सहित रजिस्ट्री करवाने के लिए परिसर में प्रवेश किया तो उनके दोनों पुत्रवधुओंने ससुर  महावीर को लात और गुस्सा से पीटना शुरू कर दिया। उसके रजिस्ट्री ने करवाने के लिए रोका। इसी बात को लेकर ससुर व बहुओं मे विवाद गर्मा गया।  इसी दौरान बेटे सूरज पाल ने अपनी भाभी सुमन देवी को भी लात और घुसा से पीटना शुरू कर दिया । जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गई। सुमन पत्नी महावीर ने बताया कि मेरे ससुर मनीराम ने अपने दोनों पुत्रों सूरजपाल व महावीर को अपनी जमीन जायदाद से कई वर्ष पहले बेदखल कर दिया था।  इसी बात को लेकर मनीराम ने दोनों बेटे नशेड़ी प्रवृत्ति के होने के कारण यह अपने परिवार से अलग-थलग हो चुके थे । इससे पहले भी मनीराम ने अपनी जमीन का कुछ हिस्सा बेच दिया था । शेष 3 एकड़ जमीन को भी बेचने के लिए तहसील परिसर में पहुंचा तो हमने अपने ससुर को जमीन न बेचने के लिए कहा । इसी बीच मेरे जेठ सूरजपाल नहीं मुझे बुरी तरह से पीट कर घायल कर दिया। बढ़ते विवाद को देखते हुए पुलिस को सूचित किया गया मौके पर पहुंचे एसएचओ राजेंद्र कुमार ने बताया कि सूचना के आधर पर सुसर-पुत्रवधुओ मे जमीनी विवाद पनपा हुआ है। पुलिस द्वारा लड़ाई-झगड़े की कार्यवाही मे दोषी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा। जमीन से संबंधित कार्यवाही उपतहसीलदार द्वारा कि जाएगी। दोनों पक्षों की बात को सुना जाएगा। विवाद के लिए दोषी के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी । तहसीलदार महेंद्र कुमार ने बताया कि आज मनीराम पुत्र गंगाराम रजिस्ट्री करवाने के लिए कार्यालय में दस्तावेज सहित उपस्थित हाजिर हुआ। जिसमे गंगा राम की पुत्रवधुओ ने एतराज जताया कि हमारा भी इस जमीन मे हिस्सा बनता है। इस पर नायब तहसीलदार ने जमीन का स्टे की बात कही। अगर आपके पास जमीन का स्टे नही है तो मैं रजिस्ट्री होने से मना नही कर सकता। सभी को जमीन खरीदने-बेचने का अधिकार है। अगर किसी मामले में नम्बरदार तसदीक नही करता है तो उसकी पैरवी वकील तसदीक कर कर सकता है अगर भविष्य मे रजिस्ट्री गलत साबित पाई जाती है तो कोर्ट जो भी आदेश करेगी उसकी पालना की जाएगी। 
 

Leave a Reply

Check Also

महाराजा अग्रसेन जी की जयंती के दूसरे चरण में नंदीशाला में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित

डबवालीअखिल भाë…